बची हुई रोटी से बनाए रसगुल्ले leftover roti rasgulla

रसगुल्ले बनाना और खाना सभी को बहुत ही पसंद होता है लेकिन अगर घर पर मावा न हो या फिर घर पर काफी बची हुई रोटिया रखी हो तब इस रेसिपी को बनाना बहुत आसान है इनका स्वाद थोड़ा हट कर होता है लेकिन खाने मे बहुत ही स्वादिष्ट लगते है ये रसगुल्ले बहुत ही कम समय मे बनकर तैयार है। 

समाग्री –

बची हुई रोटिया – 5 -7

मिल्क पाउडर – 3 चम्मच

मिल्क – 1 कप ( 150ml) 

चीनी- 1 कप ( 200 gm) 

इलायची पाउडर -½ छोटा चम्मच 

देशी घी – 2 छोटी चम्मच

मैदा – 2 छोटा चम्मच

बेकिंग सोडा -¼ चम्मच 

विधि –

सबसे पहले रोटियो को तोड़कर उसे पैन मे डालकर धीमी  आँच पर रोटियों को 5 -7 मिनिट के लिए गर्म करे और फिर रोटियो को ठंडा करके इसे मिक्सी मे बरीक पीस ले।

पीसी हुई रोटियों मे चीनी को छोड़कर सभी सामग्री को डालें और इसका सॉफ्ट आटा लगा कर 5 मिनट के लिए छोड़ दे ।अब गुलाब जामुन के जैसा गोल आकार दीजिए. इसी तरह से सारे आटे से गोले बनाकर तैयर कर लीजिए. 

पानी में उबाल आने और चीनी पानी में घुलने के बाद चैक कीजिये, चमचे से 2 बूंद चाशनी की किसी प्याली में निकालिये, ठंडी होने के बाद, उंगली और अंगूठे के बीच चिपकाइये, चाशनी में 1 तार बन रही हो तो, चाशनी बन कर तैयार है, अगर चाशनी में तार बिलकुल नहीं बन रहा है, तब उसे और 1-2 मिनिट पकाइये और फिर से इसी तरह चैक कीजिये, जैसे ही आपको 1 तार की कनसिसटेन्सी मिल जाय, गैस बन्द कर दीजिये. चाशनी बन कर तैयार हो जायेगी. 

कढ़ाई में घी डाल कर गरम कीजिये. 3-4 गोले, कढ़ाई में डालें, और ब्राउन होने के बाद हल्के से हिला हिला कर तलें, गुलाब जामुन के चारों तरफ ब्राउन होने तक तल लीजिये. तले गुलाब जामुन कढ़ाई से निकाल कर प्लेट में रखिये. थोड़ा ठंडा होने पर, 2 मिनिट बाद चाशनी में डुबा दीजिये. इसी तरह सारे गुलाब जामुन बनाकर, तल कर चाशनी में डाल कर डुबा दीजिये. 

 

2- 3 घंटे में गुलाब जामुन मीठा रस सोखकर मीठे और स्वादिष्ट हो जायेंगें, और खाने के लिये बची हुई रोटी के रसगुल्ले बनकर तैयार हो जायेंगे. 

सुझाव – 

बची हुई रोटी के रसगुल्ले का आटा लगाने मे दूध अधिक मात्रा मे लगता है इसलिए  इसका आटा बहुत सॉफ्ट लगाना है। 

 

 

 

एक और नई रेसिपी बनाने के लिए //5 मिनेट मे सिर्फ 1 कप दूध से बिना घी तेल बनाए ये मुह मे घुलजाने वाली लाजवाब मिठाई milk sweet mithai

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *